District Institute of Education and Training,Pithoragarh

जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान, (डीडीहाट ) पिथौरागढ़

Common Yoga Protocol Link

Teacher Education In The District

पिथौरागढ़ जनपद मे शिक्षक शिक्षा की स्थिाति

भारतीय संस्कृति की पहचान अनेकता में एकता का प्रतिनिधित्व करने वाला ‘‘मिनी इंडिया‘‘ के नाम से अलंकृत जनपद पिथौरागढ़ की विकास यात्रा काफी रोचक हैं।

यह संस्थन सीमानत जनपद पिथौरागढ़ के मुख्यालय से 53 किमी. दूर, ओगला- थल मोटर मार्ग पर तहसील मुख्यालय डीडीहाट में स्थापित किया गया हैं। जो समुद्र सतह से 1625 मीटर की ऊॅचाई पर स्थित हैं । संस्थान परिसर के चारों और विस्तृत रुप से फेले हरीतिमा युक्त सघन वन तथा उत्तर दिशा में स्थित में स्थित नन्द्रा देवी, नन्दाकोट, पचाचूली आदि हिमाच्छादित पर्वत शिखर अपनी अनुपम छटा से इस संस्थान की स्थिति को चित्ताकर्षक बनाते है।

संस्थान की स्थापन से पूव्र इस स्थान पर 2 अक्टूबर 1961 में राजकीय दीक्षा विद्यालय की स्थापना की गई थी। जो बेसिक विद्यालयों के लिए पुरुष शिक्षकों के प्रशिक्षण का संचालन करता था। राष्ट्रीय शिक्षा नीति 1986 की शैक्षिक संकल्पनाओं के व्यावहारिक क्रियान्वयन हेतु प्रत्येक जनपद में एक जिना शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान के उच्चीकृत किया गया है। यदपि वर्ष 1988-89 में फेज वन के अन्तर्गत इस संस्थान को स्थपित किया गया थ, लेकिन वर्ष 1994-95 से क्रियान्वित हो पाया।

डायट की अवधारणा

संवैधानिक दायित्व के अन्तर्गत प्राथमिक एवं प्रौढ़शिक्षा एवं अनौपचारिक शिक्षा कार्यक्रमों को संचालित करने के लिए एन0सी0ई0आर0टी0, एन0आई0ई0पी0ए0 और एस0सी0ई0आर0टी0 ने सामुहिक रुप से कार्य सकें। इस संस्था का नाम जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (डायट) रखा गया।

  1. जनपद -स्तर पर शिक्षा के सार्वभौमीकरण की संकल्पना को मूर्त रुप देना।
  2. शैक्षिक उपलब्धि के स्तर मे समानता एवं गुणात्मक उन्नयन लाना।
  3. जिला स्तर पर सेवापूर्व एवं सेवारत प्रशिक्षण का आयोजन।
  4. प्रारम्भिक एवं अनैापचारिक शिक्षा के क्षेत्र में सन्दर्भ व्यक्तियों हेतु प्रशिक्षण।

डायट की भूमिका एवं दृष्टि

संवैधानिक दायित्व के अन्तर्गत प्राथामिक एवं प्रौढ़ शिक्षा/अनौचारिक शिक्षा कार्यक्रमों को संचलित करने के लिए एन0सी0ई0आर0टी0. एन0आई0ई0पी0ए0 और एस0सी0ई0आर0टी0 ने सामूहिक रुप से कार्यक्रम शुरु किये। बाद में एक ऐसी संस्था गठित करने की योजना बनायी गयी जो जिला स्तर पर आधार संस्था के रुप में कार्य कर सके। इस संस्था का नाम जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान (डायट) रखा गया। भारत द्वारा जिलों में तीन चरणों में डायटों को स्वीकृति दी गयी। आशा की गई कि प्राथमिक स्तर की शिक्षा अनौपचारिक शिक्षा तथा प्रौढ़ शिक्षा के क्षेत्र में गुणवत्ता संवर्धन का कार्य जायेगा। प्राथमिक शिक्षा का सार्वभौमिक किया जायेगा तथा अनौपचारिक शिक्षा के उद्देश्य को प्रापत किया जायेगा। इसके लक्ष्य समूह के अन्तर्गत बालिका एवं महिला शिक्षा, अ0जा0, अ0ज0जा0 तथा अलपसंख्यकों की शिक्षा, विकलांगों की शिक्षा तथा अन्य शैक्षिक रुप से पिछड़े वर्गो जैसे-मजदूरी करने वाले बच्चे, झुग्गी-झोपड़ी में रहने वाले बच्चों व दूर-दराज के बच्चों की शिक्षा सम्मिलित की गई।

उद्देश्य व विकास -

डायट के स्थापना के उद्देश्यों में निम्न बिन्दु सम्मिलित है।

  • जिला स्तर पर सेवापूर्व एवं सेवारत प्रशिक्षणों का आयेजन ।
  • प्रधानाध्यापक/प्रधानाचार्य एवं विकास खण्ड स्तर के शिक्षा अधिकारियों तथा एन0एफ0ई0 और ए0ई0 के कर्मियों के लिए क्षमता संर्वधन प्रशिक्षणों का आयोजन।
  • प्राथमिक एवं अनौपचारिक शिक्षा के क्षेत्र में संदर्भ व्यक्तियों हेतु प्रशिक्षण।
  • मूल्यांकन हेतु प्रश्नपत्रों/मूल्यांकन उपकरणों का निर्माण तथा शिक्षण सहायक सामग्री का निमार्ण करना।
  • जिला शिक्षा परिषद, ग्राम शिक्षा समिति, स्वैच्छिक संस्थाओं तथा स्वयं सेवियों हेतु अभिमुखीकरण सेवाओं को उपलब्ध कराना।

स्थापना वर्ष -

जिला शिक्षा एवं प्रशिक्षण संस्थान डीडीहाट, पिथौैरागढ़ की स्थापना प्रथम चरण के अन्तर्गत वर्ष 1992-93 में की गई।

भवन संसाधन -

01 भूमि 19 एकड
02 प्रशासनिक भवन 43430,14430 MM
03 प्रशासनिक भवन 01
04 सभागाार 01
05 सेवारत अध्यापक प्रशिक्षण हाल 01
06 कक्षाकक्ष 04
07 स्टाफ रूम 03
08 प्रयोगशालाऐं -
09 पुस्तकालय -
10 सभागार -
11 वाचनालय -
12 कम्प्यूटर कक्ष -
13 कला संगीत रूम -
14 पुस्तकें 4000
15 मासिक पत्रिका 06
16 समाचार पत्र 02
17 फर्नीचर 300 सैट स्टूल, 100 कुर्सी, 300 टेबुल, डिनर सैट 01, बैड 50
18 खेल टेबल टेनिस, बैडमिंटन, बालीबाल, फुटबाल
19 छात्रावास कमरों की क्षमता पुरूष 16 कक्ष 48 प्रशिक्षणार्थियों हेतु
महिला 16 कक्ष 48 प्रशिक्षणार्थियों हेतु
20 आवासीय परिदृश्य 01 भवन प्राचार्य आवास
03 भवन कर्मचारी
01 प्रधानाध्यापक आवास आदर्श विद्यालय
04 चतुर्थ श्रेणी आवास
06 सहायक अध्यापक आवास आदर्श विद्यालय
8. वाहन जीप गाड़ी महेन्द्रा एंड महेन्द्रा 01

उपकरण एवं प्रयोगशालाएं -

टेलीविजन 03, वी0सी0आर0 02, आ0एच0पी0स्क्रीन सहित 01, ओडियो कैसेट प्लेयर 01, टू. इन वन 01, एम्प्लीफायर व माइक 02, एपीडायोस्कोप 02, विज्ञान किट04, सूक्ष्मदर्शी10, डुवलीकेटर मशीन 01, सिलाई मशीन6, मोमबत्ती साॅचा 04 चाॅक साॅचा 03, कृषिविज्ञान औजार, फोटो स्टेट मशीन 02, वीडीयो कैमरा 02, कम्प्यूटर 2, फैक्स मशीन 2, स्कैनर 01, कलर लेजर पिं्रटर01, लेजर प्रिंटर04, डाटमैट्रिक्स प्रिंटर02, जैनेरेटर2, सोलर पावर जैनेरेटर-01,डिजिटल कैमरा 01, LCD प्रोजेक्टर-01,Intractive Board 01

विज्ञान प्रयोशाला 01
गणित प्रयोशाला 01
कार्यानुभव / क्राफ्ट प्रयोगाशला 01
कम्प्यूटर प्रयोशाला 01

स्वीकृत कार्यरत एंव रिक्त पदों का विवरण

कार्यालय प्राचार्य जिला शिक्षा एंव प्रशिक्षण संस्थान, डीडीहाट (पिथौरागढ़)

दिनांक 18.04.2017 की स्थिति के अनुसार

क्र0सं0 पदनाम स्वीकृत पद कार्यरत पद रिक्त पद
1 प्राचार्य 01 01 00
2 वरिष्ठ प्रवक्ता 06 00 06
3 प्रवक्ता 17 09 08
4 कार्यानुभव शिक्षक 01 01 00
5 साख्यिकीकार 01 01 00
6 तकनीकी सहायक 01 00 00
7 मुख्य प्रशासनिक अधिकारी 01 00 01
8 वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी 01 01 00
9 प्रशासनिक अधिकारी 01 00 01
10 पुस्तकालयाघ्यक्ष 01 00 01
11 लेखाकार 01 00 01
12 आशुलिपिक 01 00 01
13 प्रधान सहायक 01 01 00
14 वरिष्ठ सहायक 01 01 00
15 कनिष्ठ सहायक 01 01 00
16 प्रयोगशाला सहायक 01 00 01
17 जीप चालक 01 00 01
18 अनुसेवक 04 03 01
19 स्वच्छक/चैकीदार 01 01 00
योग 43 20 23

विभागवार वरिष्ठ प्रवक्ता/प्रवक्ता/सहायक अध्यापकों के स्वीकृत कार्यरत एंव रिक्त पदों का विवरण

कार्यालय प्राचार्य जिला शिक्षा एंव प्रशिक्षण संस्थान, डीडीहाट (पिथौरागढ़)

दिनांक 18.04.2017 की स्थिति के अनुसार

क्र0सं0 विभाग स्वीकृत पद कार्यरत पद रिक्त पद अन्य विवरण
वरिष्ठ पद प्रवक्ता स्0अ0 वरिष्ठ पद प्रवक्ता स्0अ0 वरिष्ठ पद प्रवक्ता स्0अ0
1 सेवापूर्व विभाग 01 08 00 00 03 00 01 05 00 अद्यतन 03 प्रवक्ताओं द्वारा सेवापूर्व विभाग में कार्यभार ग्रहण किया गया है।
2 सेवारत विभाग 01 01 00 00 00 00 01 01 00 -
3 नियोजन एवं प्रबन्धन विभाग 01 01 01 00 01 00 01 00 01 -
4 शैक्षिक एवं तकनीकी विभाग 01 01 01 00 01 00 01 00 01 -
5 कार्यानुभव विभाग 01 01 01 00 01 01 01 00 00 दि 17.11.16 को कार्यानुभव शिक्षक द्वारा पदस्थापना के फलस्वरुप कार्यभार ग्रहण किया गया।
6 पाठ्यक्रम एवं मूल्यांकन विभाग 01 01 00 00 01 00 01 00 00 दि 22.10.16 को पाठ्यक्रम एवं मूल्यांकन विभाग में 01 प्रवक्ता द्वारा पदस्थापना के फलस्वरुप कार्यभार ग्रहण किया गया।
7 डी0आर0यू0 विभाग 00 04 00 00 03 00 00 01 00 अद्यतन 03 प्रवक्ताओं द्वारा डी.आर.यू. विभाग पदस्थापना के फलस्वरुप कार्यभार ग्रहण किया गया।
योग - 06 17 03 00 09 02 06 08 01
District Institute of Education and Training
Didihat,Pithoragarh
Uttarakhand
Pin:262551
+91-5964-232106

Design & Developed By:- Techstar Softwares